स्वास्थ्यदेर तक बैठकर काम करने से ब्रेन पर पड़ता...

देर तक बैठकर काम करने से ब्रेन पर पड़ता है बुरा असर, ऑफिस और घर में ऐसे करें बचाव

-

How Sitting Harms Your Brain: हेल्दी लाइफ के लिए हमें शारीरिक स्वास्थ्य के साथ साथ मानसिक स्वास्थ्य पर भी ध्यान देता होता है. हम जो भी कुछ अपनी डेली रूटीन लाइफ में करते हैं उसका हमारे ब्रेन की हेल्थ पर बड़ा प्रभाव पड़ता है. हमारे खानपान जितना ब्रेन को प्रभावित करता है उतना ही हमारे उठने, बैठने और चलने के तरीकों से भी ब्रेन प्रभावित होता है. अपने घर पर और ऑफिस में जिस तरह से बैठते हैं उससे ब्रेन की हेल्थ पर बहुत असर पड़ता है.

एक डेस्क पर लंबे समय तक बैठना, सोशल मीडिया सर्फिंग करना हमारे शरीर के और मस्तिष्क पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है. कोरोना महामारी के बाद से गतिहीन एक्टीविटी को काफी बढ़ावा मिला है और इससे पूरे शारीरिक स्वास्थ्य पर असर पड़ा है. वेरीवेल माइंड के अनुासर कुछ ऐसे उपाय हैं जिनके माध्यम से आप अधिक समय तक बैठन वाली समस्याओं को कम कर सकते हैं. चलने फिरने वाले काम हमारे मस्तिष्क पर असर डालते हैं. गतिहीन व्यवहार से हमारी स्मृति पर भी असर पड़ता है.

हानिकारक क्यों बैठना है?
हमारी गतिहीन जीवन शैली एक वैश्विक महामारी बन गई है. जब हम अपना अधिकांश समय बैठने या लेटने में बिताते हैं, तो हमारे पैर की मांसपेशियां काम नहीं कर रही होती हैं. बैठने और लेटने के दौरान हमारे शरीर में ब्लड सर्कुलेशन धीमी रफ्तार से होता है. ज्यादा देर बैठने से हमारे रक्त में फैटी एसिड बढ़ने लगता है. नतीजतन, चयापचय धीमा हो जाता है और इससे खून में ग्लूकोज भी प्रभावित होने लगता है. यह मधुमेह और हृदय रोग के लिए अधिक जोखिम को कई गुना बढ़ा देता है.

डेली रूटीन में अपनाएं ये खास तरीके, बढ़ती उम्र में कभी कमजोर नहीं होंगी आपकी हड्डियां

बैठने से बचने के लिएक्या हैं उपाय
व्यायाम करें: व्यायाम हमारे समग्र विकास के लिए जरूरी होता है. व्यायाम जितना शारीरिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है उतना ही यह मानसिक स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी है. मस्तिष्क को स्वस्थ्य रखने के लिए हमें बैठने की अपेक्षा खड़े होने वाले काम करने चाहिए. अधिक खड़े रहने से आपको एक स्वस्थ, रोग-मुक्त जीवन जीने में मदद मिल सकती है. यह टाइप 2 मधुमेह जैसी पुरानी बीमारियों को भी रोकने में मदद कर सकता है.

गतिहीन व्यवहार को कम करना मस्तिष्क के स्वास्थ्य में सुधार करने का एक तरीका साबित हो सकता है, विशेष रूप से अल्जाइमर रोग और मनोभ्रंश के जोखिम वाले लोगों के लिए.

हर 30 मिनट में मूव करें: स्वीडन के स्टॉकहोम में करोलिंस्का इंस्टीट्यूट के अमेरिकन जर्नल ऑफ फिजियोलॉजी-एंडोक्रिनोलॉजी एंड मेटाबॉलिज्म के वैज्ञानिकों द्वारा किए गए एक अध्ययन में देखा गया कि किसी कार्यालय के कर्मचारी अपने काम के दौरान हर 30 मिनट में मूवमेंट करते हैं तो इससे उनके मस्तिष्क के स्वास्थ्य पर अच्छा असर पड़ता है. अगर आप कई घंटे से बैठे हैं तो जरूरी है कि माइक्रो ब्रेक लें और 15-20 कदम चलें.

देर तक बैठने से बचने के लिए अपनाएं ये कदम

  • ऑफिस पहुंचने पर अपनी गाड़ी को दूर पार्क करें.
  • टीवी देखते समय ब्रेक आने पर आप भी चहलकदमी करें.
  • ऑफिस या फिर दूसरी जगहों पर लिफ्ट की जगह सीढ़ियों का प्रयोग करें.
  • घंटो तक बैठे हैं तो खड़े हो जाएं और जंपिंग करें.
  • लंच के दौरान बैठने को इग्नोर करें.
  • फिटनेस ट्रैकर का इस्तेमाल करें.

Tags: Lifestyle, Mental health

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest news

“Is this a big cut out for the cloth?”…Vijay who put an order to the manager in tension…do you know what he will do??

Ajith starrer Thunivu and Vijay starrer Warisu are releasing for Pongal next year. After almost 8 years,...

These are all the premieres that will arrive on HBO Max in December

From youth series and new seasons to the new Warren file movie. Enjoy the new HBO Max...

North Korea Hackers Using New “Dolphin” Backdoor to Spy on South Korean Targets

The North Korea-linked ScarCruft group has been attributed to a previously undocumented backdoor called Dolphin that the threat...

Google Pixel 7a poses in the first renders. It promises to be a great smartphone in compact sizes

Google Pixel 7a promises to be a dream Android smartphone in the middle price range. Initial leaks...

ஒரு குறிப்பிட்ட வகை பக்கவாதம் அதிகரித்து வருகிறது

சப்அரக்னாய்டு ரத்தக்கசிவு என்பது மூளையை உள்ளடக்கிய சவ்வு மற்றும் அவற்றுக்கிடையேயான இடைவெளிக்கு இடையில் இரத்தப்போக்கு ஏற்படுவதாகும். இந்த இரத்தப்போக்கு பெரும்பாலும் இரத்த நாளங்கள்...

In this regard, there is no one in India equal to Kamal….! Famous producer says

Sakalagalavallavan was released in 1982. Directed by SB Muthuraman and starring Kamal, Ambika, Silk and VK Ramasamy,...

Must read