Wednesday, September 28, 2022

எண்ணம் போல் வாழ்க்கை..!

मोटापे के कारण बढ़ सकता है कोलेस्ट्रॉल, जानिए इसके रिस्क फैक्टर और बचाव के उपाय


हाइलाइट्स

हाई कोलेस्ट्रॉल में नियमित योग और एक्सरसाइज फायदेमंद है.
जंक और फैटी फूड्स खाने से बचें.
ज्यादा स्ट्रेस लेने से बचें और रोज वॉक पर जाएं.

High Blood Cholesterol : मोटापा के कारण शरीर में ढेरों नई परेशानियां और बीमारियां बढ़ सकती हैं, जिनमें से एक समस्या हाई कोलेस्ट्रॉल की है. इससे आजकल अधिकतर लोग ग्रस्त हैं. कोलेस्ट्रॉल ब्लड में पाया जाने वाला एक चिपचिपा लिक्विड है, जो शरीर के लिए काफी ज़रूरी है, लेकिन उचित मात्रा में. कोलेस्ट्रॉल बढ़ने से ये चेस्ट पेन, हार्ट स्ट्रोक और हार्ट अटैक का भी कारण बन सकता है. हाई कोलेस्ट्रॉल का कोई ख़ास लक्षण नहीं है. शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल का पता केवल ब्लड टेस्ट से लगाया जा सकता है. कोलेस्ट्रॉल बढ़ने का कारण अधिकतर अनहेल्दी डाइट और खराब लाइफस्टाइल होता है, लेकिन ये समस्या जेनेटिक भी हो सकती है. डायबिटीज, हाई बीपी और एचआईवी जैसी बीमारियां भी कई बार शरीर में कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकती हैं. ब्लड वेसल्स में मौजूद फैटी डिपॉजिट्स यानी मोटापा अक्सर हाई कोलेस्ट्रॉल का कारण हो सकता है. आइए कोलेस्ट्रॉल के रिस्क फैक्टर्स पर एक नज़र डालते हैं.

कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के रिस्क फैक्टर

अनहेल्दी डाइट
मायोक्लिनिक डॉट ओआरजी के अनुसार, ज्यादा सैचुरेटेड और ट्रांस फैट का सेवन बॉडी में एलडीएल यानी बैड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है, जो शरीर में आर्टरी वॉल्स पर इकट्ठा होकर हाई कोलेस्ट्रॉल का कारण बनता है.

मोटापा
व्यक्ति का बॉडी मास इंडेक्स यानी बीएमआई 30 से ज्यादा हो जाना मोटापे का संकेत है. यही मोटापा हाई कोलेस्ट्रॉल की मुख्य वजह बनता है.

सिगरेट और शराब 
अधिक सिगरेट, शराब बॉडी में एचडीएल यानी गुड कोलेस्ट्रॉल को कम करती है और बैड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा सकती है, जिसके कारण सेहत पर बुरा असर पड़ता है.

अनहेल्दी लाइफस्टाइल 
आजकल अधिकतर काम कंप्यूटर या लैपटॉप पर किए जाते हैं, ऐसे में एक्सरसाइज और योग ना करने या पूरे दिन बैठे रहने से भी कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ता है.

यह भी पढ़ें: Mental Health- फिर बिगड़ने लगी दिमागी सेहत, 30% तक बढ़े डिप्रेशन के केस

हाई कोलेस्ट्रॉल से बचाव के लिए अपनाएं ये उपाय
– फल, सब्जियों और दालों को अपनी डाइट का हिस्सा बनाएं.
– सिगरेट, शराब जैसी चीजों से दूर रहें.
– जंक फूड और फैटी फ़ूड का सेवन कम करें.
– नियमित एक्सरसाइज और योग को लाइफस्टाइल में शामिल करें.
– ज्यादा स्ट्रेस या तनाव लेने से बचें.
– मोटापा कम करें और हेल्दी वेट बनाकर चलें.
– फिजिकल एक्टिविटीज जैसे जॉगिंग और वॉकिंग पर ध्यान दें.

इसे भी पढ़ें: भोजन करने के तुरंत बाद होने लगता है पेट में दर्द, हो सकते हैं ये कारण जिम्मेदार

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link

Today's Feeds

Want to submit Guest Post ?

Submit your guest / Sponsored Post on below form 👇🏻👇🏻

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Continue reading