Home Latest Feeds Technology News यमुना अथॉरिटी ने प्रोजेक्ट को मंजूरी दी, 37 हजार लोग हर दिन कर सकेंगे यात्रा | UP Noida Pod Taxi Project Details; Route, Charges And Pessangers Capacity

यमुना अथॉरिटी ने प्रोजेक्ट को मंजूरी दी, 37 हजार लोग हर दिन कर सकेंगे यात्रा | UP Noida Pod Taxi Project Details; Route, Charges And Pessangers Capacity

0
यमुना अथॉरिटी ने प्रोजेक्ट को मंजूरी दी, 37 हजार लोग हर दिन कर सकेंगे यात्रा | UP Noida Pod Taxi Project Details; Route, Charges And Pessangers Capacity

[ad_1]

नई दिल्ली3 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

उत्तरप्रदेश के नोएडा में जल्द ही देश की पहली पॉड टैक्सी सर्विस शुरू होने वाली है। यमुना एक्सप्रेसवे इंड्रास्टियल अथॉरिटी (YEIDA) ने भारत की पहली पॉड टैक्सी के रिवाइज्ड प्रोजेक्ट और बिड को मंजूरी दे दी है। YEIDA ने केंद्र सरकार की एजेंसी इंडियन पोर्ट रेल एंड रोपवे कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IPRRC) के साथ परामर्श के बाद रिवाइज्ड प्रोजेक्ट को मंजूरी दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अब यमुना अथॉरिटी अपनी रिपोर्ट उत्तरप्रदेश सरकार के पास भेजेगी। मंजूरी मिलने के बाद पॉड टैक्सी प्रोजेक्ट पर काम शुरू किया जाएगा। उम्मीद जताई जा रही है कि ये प्रोजेक्ट साल 2024 के लास्ट तक पूरा हो जाएगा।

पॉड टैक्सी में हर दिन 37,000 लोग कर सकेंगे यात्रा
इस प्रोजेक्ट की अनुमानित लागत 810 करोड़ रुपए है। पॉड टैक्सी नोएडा के जेवर एयरपोर्ट को फिल्म सिटी से कनेक्ट करेगी। शुरुआती अनुमान के अनुसार, हर दिन लगभग 37,000 लोग पॉड टैक्सियों के माध्यम से यात्रा कर सकेंगे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक पॉड में 8 लोग बैठकर और 13 यात्री खड़े होकर सफर कर सकेंगे।

14.6 किलोमीटर के रूट में बनेंगे 12 स्टेशन
वर्तमान प्रोजेक्ट के अनुसार, पॉड टैक्सी-सर्विस के लिए 14.6 किलोमीटर के रूट में 12 स्टेशन बनेंगे। ये स्टेशन बनने की लिस्ट में फिल्म सिटी, हैंडीक्राफ्ट पार्क, सेक्टर 29, सेक्टर 32-33, MSME पार्क, अपैरल पार्क, टॉय पार्क सहित अन्य जगहें शामिल हैं।

प्रोजेक्ट की मंजूरी से पहले कराई गई स्टडी
इस प्रोजेक्ट को मंजूरी देने से पहले YEIDA की कमेटी ने कहा था कि जिन देशों में पॉड टैक्सी चल रही है, वहां स्टडी की जाए। इसके फायदे और नुकसान के बारे में पता किया जाएगा, उसके बाद ही आगे बढ़ा जाए। इसके बाद उन देशों की स्टडी कराई गई।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, दुनियाभर के 18 देशों में पॉड टैक्सी शुरू की गई थी, लेकिन वर्तमान में 5 देशों में चल रही है। प्रोजेक्ट से जुड़े अधिकारियों ने साल 2011-12 की रिपोर्ट का हवाला देते हुए बताया है कि लंदन की पॉड टैक्सी सर्विस मुनाफे में चल रही है, जबकि अबू धाबी का ये प्रोजेक्ट घाटे में चल रहा है।

खबरें और भी हैं…

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here