Home Latest Feeds Health रात में खांसी आने का कारण

रात में खांसी आने का कारण

0
रात में खांसी आने का कारण

[ad_1]

हम आपके स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ खास बातें, समस्या के साथ साथ उनके उपचार या बचाव से जुड़ी कुछ बहुत ही अच्छे टिप्स और तरीके बताने वाले हैं। आज के इस आर्टिकल में हम आपको रात में होने वाली खांसी की समस्या, रात में खांसी आने का कारण, गले से कफ निकालने के उपाय, खांसी की आयुर्वेदिक दवा और खांसी कैसे ठीक करें जैसे चीजों के बारे में बताने वाले हैं। अगर आपको भी रात में खांसी आने की समस्या हैं तो हमारा यह आर्टिकल आपके लिए बेहद लाभकारी हो सकता हैं इसीलिए इसे अंत तक जरूर पढ़ें।

रात में खांसी आने का कारण – Cause of Cough at Night in Hindi

यूं तो कई लोगों को खांसी होती हैं और रात में खांसी का बढ़ना काफी साधारण बात हैं लेकिन अगर आपको अचानक से रात में सोते वक्त खांसी आ जाए तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। यहां हम आपको रात में खांसी आने के कारणों के बारे में बताने वाले हैं, जो कुछ इस तरह से हैं –

१.  पोस्टनेसल ड्रिप

पोस्टनेसल ड्रिप के कारण खांसी की गंभीर समस्या हो सकती हैं।

२.  म्यूकस का बढ़ना

जिन लोगों को साइनस की समस्या होती हैं, उनकी सांस की नली में अक्सर म्यूकस बढ़ जाता हैं जिसके कारण  रात में खांसी आने की समस्या हो सकती हैं।

३.  एलर्जी

कई लोगों को धूल की एलर्जी होती हैं और रात में खांसी होने का यह भी एक कारण हो सकता हैं।

४.  कफ

कई बार गले में कफ होने के कारण भी रात में खांसी की समस्या हो सकती हैं।

५. वायरल इंफेक्शन

वायरल इन्फेक्शन के वजह से कई बार खांसी की समस्या गंभीर हो जाती हैं और गले में कफ जमने लगता हैं।

६. अस्तमा

खांसी की समस्या अधिक बढ़ने लगे तो यह अस्थमा के भी लक्षण हो सकते हैं। अस्थमा की समस्या अधिक होने से खांसी की संभावना बढ़ जाती हैं।

७. कोल्ड फ्लू

कई बार कोल्ड फ्लू के कारण खांसी की समस्या जन्म लेती हैं।

८. गैस्ट्रोएसोफेगल रिफलक्स डिजीज

गैस्ट्रोएसोफेगल रिफलक्स डिजीज के कारण खांसी की समस्या बढ़ने लगती हैं।

खासी कैसे ठीक करे – How to Cure Cough in Hindi

खांसी ठीक करने के लिए आपकी अपनी रसोई घर में ही कई ऐसे सामग्री मौजूद हैं, जिससे आप आसानी से खांसी की समस्या को दूर कर सकते हैं।

१.  शहद और अदरक का सेवन करें

अगर किसी व्यक्ति को रात में खांसी आने की समस्या हैं तो वह अपने घर में मौजूद अदरक को अच्छी तरह से कूट कर उसमें एक चम्मच शहद मिलाकर पेस्ट तैयार कर लें और मुंह में रखकर धीरे-धीरे उसके रस को पिएं जिससे आपके गले से कफ निकलकर रात में खांसी आने की समस्या भी दूर हो जाएगी।

२. गरम पानी पीएं

गले में रहने वाले बैक्टीरिया को गर्म पानी बड़ी आसानी से खत्म कर देता हैं और साथ ही मौजूद कफ को भी पिघला सकता हैं इसीलिए अगर आपको रात में खांसी की समस्या हैं तो इसके लिए आप गर्म पानी का सेवन करें।

३.  सिर को ऊपर रखें

खांसी होने वाले म्यूकस ज्यादातर सांस की नली और गले में मौजूद होती हैं इसीलिए जब हम अपने सिर को बाकी शरीर के मुकाबले तकिए की मदद से थोड़ी ऊपर रख कर सोते हैं तो कफ या म्यूकस हमारे गले में जमा नहीं होता हैं जिसके कारण रात को खांसी की समस्या भी कम हो जाती हैं।

४. करवट लेकर सोएं

पीठ के बल या पेट के बल सोने से ब्लड में ऑक्सीजन की कमी और शरीर के दूसरे भागों में दर्द पैदा हो सकती हैं लेकिन अगर आप करवट लेकर सोते हैं तो इससे आपकी रात की खांसी की समस्या कम हो सकती हैं।

५. भाप लें

नेजल पैसेज में होने वाले रुखेपन के कारण रात में खांसी की समस्या होती हैं इसीलिए सोने से पहले भाप यानी स्टीम लेकर सोएं जिसके कारण आपके नेजल पैसेज में रूखापन नहीं होगा और आपकी खांसी की समस्या भी कम हो जाएगी।

६. ग्रीन टी पिएं

ग्रीन टी में कुछ ऐसे एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो बैक्टीरियल इनफेक्शन को आसानी से खत्म करते हैं इसीलिए रात में होने वाली खांसी के बचाव के लिए आप सोने से पहले गरमा-गरम ग्रीन टी जरूर पिएं।

७. नमक की गरारे करें

गर्म पानी के साथ नमक मिलाकर सोने से पहले गरारें करने से वह बलगम को काफी कम कर देता हैं जिसके कारण रात में होने वाली खांसी की समस्या से बचा जा सकता हैं।

८.  ह्यूमीडीफायर का इस्तेमाल करें

ह्यूमीडीफायर एक तरह की मशीन होती हैं जो सूखी हवा को कम कर कमरे में ठंडे मौसम को बनाए रखने में मदद करती हैं जिसके कारण गले में होने वाला सूखापन खुद ब खुद दूर होकर खांसी की समस्या को कम कर देता हैं।

९. धूम्रपान से दूर रहें

अगर आपको धूम्रपान करने की आदत हैं तो इसे जल्द से जल्द छोड़ने की कोशिश करें क्योंकि रात में खांसी होने के कारणों में धूम्रपान काफी बड़ा कारण हैं।

१०.  गंदगी और धूल से दूर रहें

अक्सर बाहर गंदगी और धूल कणों से गले में खराश या खांसी की समस्या होती हैं। इसलिए कम से कम बाहर जाते वक्त चेहरे पर मास्क या कपड़ा ढंक कर जाएं।

खांसी की आयुर्वेदिक दवा – Ayurvedic Medicine for Cough in Hindi

खांसी की आयुर्वेदिक दवा कई प्रकार की हैं, जिसे आप रसोईघर में आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल काफी आसान होता हैं और खांसी की आयुर्वेदिक दवा कम बजट में बिना दवाइयां खरीदे आसानी से तैयार की जा सकती हैं। खांसी की आयुर्वेदिक दवा को निम्नलिखित रुप से देखा जा सकता हैं –

१ .  तुलसी

तुलसी में कई ऐसे औषधीय गुण मौजूद हैं, जो खांसी सर्दी की समस्याओं को पल भर में गायब कर देते हैं। तुलसी में एंटीबॉडीज उत्पन्न करने की क्षमता होती हैं। तुलसी का काढ़ा बनाकर पीने से खांसी की समस्या खत्म हो जाती हैं।

२.  मधु

मधु में एंटीमाइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं जो खांसी की समस्या से राहत दिलाते हैं। इसके साथ अदरक का सेवन करने से यह और भी लाभकारी साबित होते हैं।

३.  मुलेठी

मुलेठी का चूर्ण गले में कफ की समस्या को दूर करने में काफी फायदेमंद होता हैं। यह खांसी सर्दी की समस्या को दूर करने में बड़ी-बड़ी दवाइयों को फेल कर देता हैं।

४ .  सौंठ

सूखे हुए अदरक को सौंठ कहा जाता हैं। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जिसके कारण यह खांसी सर्दी की समस्या को दूर करने में बहुत मददगार साबित होता हैं।

गले से कफ निकालने के उपाय – Remedies to Remove Phlegm From Throat in Hindi

सर्दी खांसी के समय गले में कफ का जमना स्वाभाविक हैं लेकिन इससे काफी समस्या होती हैं। गले से कफ निकालने के उपाय की बात करें तो निन्नलिखित तरीके से आसानी से गले से कफ के समस्या को दूर किया जा सकता हैं –

१. गले में कफ जम जाने पर इसे निकालने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी का सेवन करें।

२. अधिक तनाव लेने और एक्सरसाइज ना करने से कई समस्या हो सकती हैं। सर्दियों के समय गले में कफ जम जाने पर प्रतिदिन एक्सरसाइज पर ध्यान दें।

३. गले में कफ की समस्या से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में नींद लें।

४. खांसी में गले के कफ को दूर करने के लिए अदरक और काली मिर्च का सेवन करें।

५. ठंडे पेय पदार्थों जैसे ठंडा पानी, आइसक्रीम या कोल्डड्रिंक का सेवन बिल्कुल भी ना करें।

खांसी में क्या नहीं खाना चाहिए – What Not to Eat in Cough in Hindi

खांसी की समस्या होने पर इस बात पर विशेष ध्यान देना चाहिए कि खांसी में क्या नहीं खाना चाहिए। यदि आप इसका ध्यान रखते हैं तो खांसी की समस्या तुरंत खत्म हो सकती हैं। तो आइए जानते हैं खांसी में क्या नहीं खाना चाहिए के बारे में –

१.  चावल

सबसे पहले नंबर पर आता हैं चावल, जिसे खांसी के समय कभी भी खाने से बचना चाहिए। चावल की तासीर ठंडी होने से इसमें बलगम की समस्या को जन्म देने वाले कारक मौजूद होते हैं, जो खांसी को बढ़ा सकते हैं।

२.  कॉफी

खांसी के समय कॉफी के सेवन से दूर रहना चाहिए। कॉफी में मौजूद कैफीन से गले में डिहाइड्रेशन होती हैं। इससे खांसी की समस्या बढ़ सकती हैं।

३.  दही

खांसी के समय कभी भी दही का सेवन नहीं करना चाहिए। यह काफी ठंडा होता हैं और गले के लिए नुकसानदेह भी साबित होता हैं।

४.  चीनी

चीनी का सेवन खांसी के समय नहीं करनी चाहिए क्योंकि चीनी सीने में इन्फ्लेमेशन की समस्या को ट्रिगर करता हैं। इसके अलावा खांसी सर्दी के समय चीनी का सेवन करने से यह इम्यून सिस्टम को भी काफी कमजोर कर देता हैं जिससे खांसी और अधिक बढ़ जाती हैं।

निष्कर्ष :

जाड़े के समय में सर्दी खांसी की समस्या को दूर करने के लिए हम कई प्रकार की दवाइयों का सेवन करते हैं लेकिन हमारी रसोई घर में खांसी की आयुर्वेदिक दवा के रूप में पूरा भंडार मौजूद होता हैं, जिनका इस्तेमाल कर खांसी की समस्या को आसानी से दूर किया जा सकता हैं।



[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here