Thursday, June 24, 2021
Homeहिंदी NEWSखानासेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है पपीता, मगर खरीदते समय...

सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है पपीता, मगर खरीदते समय ध्‍यान रखें ये बातें


पपीता (Papaya) सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है. अक्सर हर घर में यह इस्तेमाल में लाया जाता है. कई लोग इसे सलाद के तौर पर खाना पसंद करते हैं तो कईयों को ये नाश्ते में बेहद पसंद होता है. सबसे बड़ी बात जो लोग वजन कम करने की कोशिश में लगे हैं उनके लिए तो ये किसी नियामत से कम नहीं है.यह एंटीऑक्सिडेंट का पावरहाउस भी है. ऐसे में इतने गुणों से भरपूर पपीते को खाने के लिए उसका सही चुनाव करना भी जरूरी है. अक्सर लोग इसे लेकर कंफ्यूजन में रहते हैं कि पपीता कैसा लिया जाना चाहिए तो हम आज आपकी इसी मुश्किल का हल बताने जा रहे हैं. इससे आप आसानी से सही पपीते का चुनाव कर पाएंगे.

किस सीजन में मिलता हैः  

पपीता का पीक सीजन मिड समर से मिड ऑटम यानी पतझड़ के मध्य तक होता है, हालांकि अब ये आमतौर पर साल भर मिलते हैं. इसे केले की तरह ही हरा और अधपका तोड़ लिया जाता है. इससे इसकी शिपिंग में आसानी होती है.

ये भी पढ़ेंः लंबे समय तक रहना है जवां तो रोज खाएं पपीता, जानें इसके 5 फायदे

कैसा पपीता न लेंः  

अगर आप कच्चा पपीता ले रहे हैं तो ध्यान रखें कि यह पूरी तरह से हरा और ठोस हो. इसमें किसी भी तरह के दाग या फंफूद न हो. अक्सर लोग रंग देखकर पपीता लेते हैं, लेकिन जरूरी नहीं कि बाहर से हल्की हरी स्किन वाला पपीता कच्चा ही होगा. अगर पका पपीता खरीदें तो देखें कि उसकी स्किन बाहर से अच्छा नारंगी और पीला रंग लिए हो और कुछ हरे धब्बे भी हो सकते हैं. हाथ से दबाने पर वह बेहद कम दबना भी चाहिए, लेकिन अगर  जरा सा दबाने पर ही पपीता पूरी तरह से अंदर धंस जा रहा हो तो उसे लेने से भी परहेज करें. भूरी सी स्किन और जगह-जगह सफेद फंफूद से दाग दिखने पर पका पपीता नहीं लेना चाहिए. ऐसा पपीता खाने से आपकी सेहत को फायदे की जगह नुकसान पहुंच सकता है.

पपीते की खुशबू भी उसकी सेहत के राज खोलती है, इसलिए पपीता खरीदते वक्त उसकी खुशबू की अनदेखी न करें. अक्सर जिस पपीते से भीनी सी खुशबू आ रही हो वह मीठा और पका हुआ माना जाता है. पपीते का छिलका और वजन भी उसके अच्छे और खराब होने के संकेत देते हैं. इसके वजन में बेहद अधिक होने. छिलके के मोटे और सख्त होने पर इसे न खरीदें.

ये भी पढ़ेंः पपीते के बीज किडनी से लेकर लिवर तक रखेंगे सेहतमंद, जानें फायदे

कब खा लेंः  

पपीता घर लाने के बाद आपके किचन के काउंटरटॉप पर भी बाकी का पक जाता है, लेकिन पका पपीता घर लाने के बाद एक दो दिन के अंदर ही खा लेना चाहिए वरना इसके ओवर राइप होकर खराब होने की संभावना रहती है.

ये भी पढ़ेंः अगर रोज नाश्‍ते में एक कटोरी पपीता खाएं तो क्‍या होगा

कैसे छिलें और काटेंः  

पपीते की स्किन अलग करने के लिए सब्जी काटने वाले तेज चाकू या वेजिटेबिल पीलर का इस्तेमाल करें.इसकी स्किन के बाद दिखने वाले सफेद गूदे को भी अलग कर लें. इसे साफ न करने से पपीता कड़वा लग सकता है. इसके बीज भी निकाल लें और इसके बाद जो श्लेष्मा सा होता है उसे भी साफ कर लें. अब इसे अपनी सुविधा अनुसार डाइस या बड़ी फांकों में काट कर इस्तेमाल करें. ध्यान रखें कि  पपीते को हमेशा आधी लंबाई में काटना चाहिए.

पपीते के बीज पत्ती भी कमालः  

पपीते के बीजों ओवन की कम आंच में सुखाएं और उन्हें पेपरकॉर्न (pepperतcorns) की तरह इस्तेमाल करें. इसकी पत्तियों को पालक की तरह पकाया और खाया जा सकता है. माना जाता है कि पपीते के कई तरह के औषधीय लाभ हैं.पके पपीते में बहुत सारा विटामिन सी, बीटा-कैरोटीन और लाइकोपीन होता है. यह पाचन दुरुस्त रखता है और पेट की परेशानियों से राहत देता है. हालांकि प्रेग्नेंट औरतों को हरा कच्चा पपीता खाने की मनाही है क्योंकि इससे मिसकैरिज होने की संभावना रहती है.(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. Hindi news18 इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Today's feeds

Serial Actress Nithya Das and her daughter photo goes viral – தமிழ் News

பிரபல தமிழ் சீரியல் நடிகை ஒருவர் தனது மகளுடன் இருக்கும் புகைப்படத்தை சமூக வலைதளத்தில் பதிவு செய்த நிலையில் இவ்வளவு இளமையாக இருக்கும் உங்களுக்கு இவ்வளவு பெரிய மகளா? உண்மையில் இவர்...

Today's news

Latest offer's