Wednesday, December 8, 2021
Homeहिंदी NEWSस्वास्थ्यहरी-चमकदार दिखने वाली सब्ज़ियों पर हो सकता है हानिकारक कैमिकल इस तरह...

हरी-चमकदार दिखने वाली सब्ज़ियों पर हो सकता है हानिकारक कैमिकल इस तरह करें पहचान/how to identify harmful chemicals on vegetables mt– News18 Hindi


Detecting Food Adulterants: डॉक्टर हो या बड़े बुज़ुर्ग, सेहत (Health) को दुरुस्त रखने के लिए हरी सब्ज़ियां (Vegetables) खाने की सलाह सभी देते हैं. लेकिन बाकी खाद्य सामग्री की तरह ही सब्ज़ियों में भी काफी मिलावट देखने को मिलने लगी है. जो सेहत को फायदा करने की जगह खासा नुकसान पहुंचा सकती है. दरअसल सब्ज़ियों को हरा और ताज़ा दिखाने के लिए इन पर मैलाकाइट ग्रीन (Malachite green) नाम का कैमिकल इस्तेमाल किया जाता है. जो कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को जन्म दे सकता है. यहां तक कि इसके दुष्प्रभाव कैंसर का खतरा तक पैदा कर सकते हैं. ऐसे में ये सवाल मन में आता है कि आखिर सब्ज़ियों पर इस कैमिकल की मौजूदगी को किस तरह से पहचाना जाए?  तो आपकी इस दिक्कत को दूर करने के लिए FSSAI (Food Safety and Standards Authority of India) यानी भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो शेयर किया है. इस वीडियो में बताया गया है कि सब्ज़ियों पर मैलाकाइट ग्रीन कैमिकल होने की पहचान कैसे की जा सकती है. आइये इसके बारे में यहां भी जानते हैं.

ये भी पढ़ें: इन संकेतों को न करें नजरअंदाज, ये बताते हैं कम खा रहे हैं सब्जियां

जानें मैलाकाइट ग्रीन क्या है

मैलाकाइट ग्रीन एक ऐसा कैमिकल है जिसे सब्ज़ियों को हरा, ताज़ा और चमकदार दिखाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है. सब्ज़ियों को फ्रेश दिखाने के लिए मुनाफाखोर सब्ज़ियों को मैलाकाइट ग्रीन के मिश्रण में डुबोते हैं फिर इनको बेचते हैं. जानकारी के अनुसार इस कैमिकल का इस्तेमाल एंटी-फंगल और एंटी-प्रोटोजोअल दवा के तौर पर परजीवी नाशक के रूप में किया जाता है. ये एक कैंसरजनित कैमिकल है जो कैंसर फ़ैलाने वाली कोशिकाओं को बढ़ावा देता है.

ये भी पढ़ें: अगर खाते हैं कच्ची सब्जियां, तो पड़ सकता है सेहत के लिए महंगा

ऐसे करें सब्ज़ियों पर मैलाकाइट ग्रीन होने की पहचान

सब्ज़ियों पर मैलाकाइट ग्रीन होने की पहचान करने के लिए आप एक कॉटन बॉल यानी रुई लेकर इसको लिक्विड पैराफिन में भिगो लें. फिर इस रुई को सब्ज़ियों की बाहरी सतह पर कुछ देर रगड़ें. अगर रुई के रंग में कोई बदलाव नहीं होता है तो सब्ज़ियां शुद्ध हैं. लेकिन रुई का रंग अगर हरा होने लगता है तो ये इस बात का सुबूत है कि सब्ज़ियों पर मैलाकाइट ग्रीन इस्तेमाल किया गया है. इन सब्ज़ियों का सेवन करना सेहत के लिए नुकसानदेह साबित हो सकता है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.





Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Today's feeds

How To Set Up Your New Smart Lights In Google Home

Smart lights are probably some of the best smart home products that you can buy, as they can be very useful. Being...