Home Entertainment Actor Ram Yashvardhan, playing the role of Shiva, said – My insecurity about the future has completely ended. | महाशिवरात्रि स्पेशल: शिव का किरदार निभा रहे एक्टर राम यशवर्धन बोले- भविष्य को लेकर मेरी इनसिक्योरिटी पूरी तरह से खत्म हो गई

Actor Ram Yashvardhan, playing the role of Shiva, said – My insecurity about the future has completely ended. | महाशिवरात्रि स्पेशल: शिव का किरदार निभा रहे एक्टर राम यशवर्धन बोले- भविष्य को लेकर मेरी इनसिक्योरिटी पूरी तरह से खत्म हो गई

0
Actor Ram Yashvardhan, playing the role of Shiva, said – My insecurity about the future has completely ended. | महाशिवरात्रि स्पेशल: शिव का किरदार निभा रहे एक्टर राम यशवर्धन बोले- भविष्य को लेकर मेरी इनसिक्योरिटी पूरी तरह से खत्म हो गई

[ad_1]

50 मिनट पहलेलेखक: किरण जैन

  • कॉपी लिंक

पौराणिक धारावाहिक ‘शिव शक्ति – तप, त्याग, तांडव’ में शिव की भूमिका में एक्टर राम यशवर्धन, वहीं पार्वती की भूमिका में सुभा राजपूत नजर आ रहे हैं। महाशिवरात्रि के मौके पर शो के मेकर्स ने इस पावन पर्व से जुडी एक स्पेशल एपिसोड का आयोजन किया है। हाल ही में दैनिक भास्कर से खास बातचीत के दौरान, दोनों एक्टर्स ने इस पर्व से जुडी कुछ यादें शेयर की।

राम यशवर्धन कहते है, ‘बचपन में परिवार के सभी मेंबर्स मिलकर सुबह मंदिर जाते थे। भोलेनाथ को अभिषेक करते और फिर फल, दूध और जल चढ़ाते थे। सोसाइटी में पंडाल लगते थे। महाशिवरात्रि से जुडी कार्यक्रम आयोजित किये जाते थे। इन कार्यक्रम में मैं भगवान शिव बनता था।

शायद, भगवान मुझे बचपन से ही इस किरदार के लिए तैयार कर रहे थे। उस वक्त भी मुझे ऑडियंस ने बहुत प्यार दिया और अब भी दे रहे हैं। इसके लिए मैं भगवान शिव का शुक्रगुज़ार हूं।’

सुभा राजपूत ने कहा, ‘बचपन में मैं इस पर्व पर व्रत जरूर रखती थीं। हालांकि, अब काम की वजह से नहीं रख पाती। फॅमिली के साथ मिलकर व्रत तोड़ने के मोमेंट्स को मैं बहुत मिस करती हूं। मैं भगवान शिव की बहुत बड़ी भक्त हूं।

अपने किरदार के जरिए हमारे देवताओं की महिमा को प्रदर्शित करने का अवसर मिलना बहुत ही सौभाग्य की बात है। शिव और पार्वती के कारण ही हम विश्वास करते हैं कि प्रेम हमेशा के लिए है।

दोनों एक्टर्स की माने तो इस शो से जुड़ने के बाद उनमें काफी बदलाव आए है। इस बारे में राम कहते है, ‘इस तरह के पौराणिक धारावाहिक से जुड़ना मेरे लिए गर्व की बात जय। पिछले 9 महीने में मैंने इस शो को आध्यात्मिक तौर पर काफी एन्जॉय किया। पर्सनली, मुझ में काफी बदलाव आए।

पहले मैं भविष्य के बारे में सोचकर परेशान रहता था लेकिन अब नहीं। इस शो से जुड़ने के बाद, भविष्य को मेरी इनसिक्योरिटी पूरी तरह से खत्म हो गई है। अब अपने कर्म पर विश्वास करता हूं। काफी सुकून महसूस होता है।’

सुरभि कहती है, ‘मैंने तो मान लिया की जो होता हैं भगवान की मर्ज़ी से होता है। मैं अब हर सिचुएशन को एक्सेप्ट करके आगे बढ़ती हूं। मैंने कर्म को ही अपना धर्म बना लिया है। मैं बहुत खुश और संतुष्ट हूं।

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here