Wednesday, July 28, 2021
Homeहिंदी NEWSस्वास्थ्यhealth benefits of black til black sesame– News18 Hindi

health benefits of black til black sesame– News18 Hindi


Black Til For Health: काले तिल (Black Sesame) में कई औषधीय गुण (Medicinal Properties) पाए जाते हैं, यही वजह है कि ये सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं. पुराने समय से ही तिल (Sesame) भारतीय लोगों की पसंद रहे हैं. तिल कई प्रकार रंगों में उगते हैं, जिनमें काले, भूरे, सुनहरे और सफेद रंग शामिल हैं. तिल इसलिए भी ज्‍यादा लोकप्रिय हैं क्‍योंकि ये कई पोषक तत्‍वों से भरपूर होते हैं और कई खास डिशेज में इनका इस्‍तेमाल किया जाता है. साथ ही तिल पाचन को बेहतर बनाए रखते हैं और लो ब्‍लड प्रेशर में भी फायदेमंद होते हैं. इस तरह सेहत को भी ये कई तरह से फायदा पहुंचाते हैं. वहीं ये बालों और स्किन को बेहतर बनाए रखने में भी मददगार होते हैं. आइए जानें इनके 5 फायदे-

लो ब्‍लड प्रेशर में है फायदेमंद
हेल्‍थलाइन की एक रिपोर्ट के मुताबिक तिल में कैल्शियम और मैग्नीशियम होते हैं, जो रक्तचाप को कम करने और रक्त वाहिकाओं के स्वास्थ्य की रक्षा करने में मदद कर सकते हैं. लो ब्‍लड प्रेशर होने से कुछ पुरानी बीमारियों जैसे हृदय रोग के जोखिम को कम किया जा सकता है.

ये भी पढ़ें – मुंह के छालों से न हों परेशान, ये 6 उपाय पहुंचाएंगे आराम

दिल को सेहतमंद रखने में मददगार

तिल और तिल का तेल तनाव को कम करने और शरीर में एंटीऑक्सिडेंट को बढ़ाने की क्षमता पर सकारात्मक प्रभाव डालता है. तिल के बीज में उच्च एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं. ऐसे में इसका सेवन तनाव को कम करने के साथ हृदय रोग और अल्जाइमर रोग को रोकने में मददगार होता है. तिल में मोनोअनसैचुरेटेड वसा और पॉलीअनसेचुरेटेड वसा होती हैं, जो हृदय के स्वास्थ्य को बेहतर बनाए रखने में मददगार होते हैं.

बालों और त्वचा के लिए है फायदेमंद

तिल के तेल को अक्सर बालों और त्वचा के उत्पादों, जैसे साबुन, शैम्पू और मॉइस्चराइजर में शामिल किया जाता है. ऐसे में आप समझ ही सकते हैं कि काले तिल बालों और बेहतर स्किन के लिए भी अच्छे होते हैं. कुछ अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि काले तिल से बालों और त्वचा पर अच्‍छा प्रभाव पड़ता है. तिल में कई पोषक तत्व होते हैं जो स्वस्थ बालों और त्वचा को बेहतर बनाए रखने में मददगार होते हैं.

पाचन रखता है बेहतर

काले तिल में उच्च मात्रा में फाइबर और फैटी एसिड होते हैं. इस वजह से ये कब्ज को दूर करने में मददगार होते हैं. दरअसल, तिल में में पाया जाने वाला तेल आंतों को चिकना बनाए रखता है. ऐसे में पाचन दुरुस्‍त बना रहता है.

ये भी पढ़ें – कोरोना मरीजों में 7 गुना ज्‍यादा है बेल्स पॉल्सी का खतरा

इम्‍यून सिस्‍टम रखता है दुरुस्‍त

तिल आपके इम्‍यून सिस्‍टम को बेहतर बनाए रखने के लिए अच्‍छा होता है. इसमें कई पोषक तत्व जैसे जिंक, सेलेनियम, कॉपर, आयरन, विटामिन बी6 और विटामिन ई आदि पाए जाते हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Today's feeds

உடல் எடையைக் குறைக்க உதவும் ஓட்டப் பயிற்சிகள்! | Weight loss: Best Running Workouts To...

<!----> 1. தி ஃபாா்ட்லெக் (The Fartlek) ஃபாா்ட்லெக் (The Fartlek) என்ற வாாத்தைக்கு ஸ்வீடன் மொழியில் வேகமாக விளையாடுதல் என்று பொருள். இது தொடா்ந்து நீண்ட தூரம் ஓடக்கூடிய ஒரு ஓட்டப் பயிற்சியாகும். இதில் வேகமாகவும் ஓடாமல் அல்லது மெதுவாகவும் ஓடாமல் இரண்டுக்கும் இடையில் மிதமான வேகத்தில் ஓட வேண்டும். சிலா் இந்த ஓட்டப் பயிற்சியோடு ஜாக்கிங் அல்லது வேகமாக ஓடுதல் அல்லது நடைப் பயிற்சி போன்றவற்றைக் கலந்துவிடுகின்றனா். இந்த ஓட்டப் பயிற்சியைக் கணக்கிட்டு செய்ய வேண்டிய அவசியம் இல்லை. நமக்கு விருப்பமான மற்றும் நமக்கு ஏற்ற நேரத்தில் இந்த ஓட்டப் பயிற்சியில் ஈடுபடலாம். 100 மீட்டா் தூரம் மெதுவாக ஓடலாம், பின் வேகமாக ஓடலாம் அல்லது நடக்கலாம். இந்த ஓட்டப் பயிற்சியை நமக்கு விருப்பமான வகையில் வைத்துக் கொள்ளலாம். கொடும் இதய நோய்.. உயிருக்கு போராடும் 5 வயது சிறுவன்.. அவசர மருத்துவ சிகிச்சைக்கு உதவி தேவை! <!----> 2. டவுன்வோ்ட் லேடா் (Downward Ladder) முதலில் சொன்ன பயிற்சியைவிட டவுன்வோ்ட் லேடா் (Downward Ladder) பயிற்சி சற்று கடினமான ஒன்றாகும். இந்த ஓட்டப் பயிற்சியின் தொடக்கத்தில் 1 கிமீ தூரம் வரை மிதமான வேகத்தில் ஓட வேண்டும். அதற்கு பின்பு 2 நிமிடங்கள் ஜாக்கிங் செய்ய வேண்டும். அதனைத் தொடா்ந்து அரை மைல் தூரம் மிக வேகமாக ஓட வேண்டும். பின் மீண்டும் ஒரு நிமிட நேரம் ஜாக்கிங் செல்ல வேண்டும். இறுதியாக அரை மைல் தூரம் வேகமாக ஓட வேண்டும். இந்த ஓட்டப் பயிற்சி சவால் மிகுந்த ஒன்றாகும். இது நமது உடல் முழுவதற்கும் சவாலாக விளங்குகிறது. இந்த பயிற்சி நமது நுரையீரலையும், நமது பலவீனங்களையும் பாிசோதிக்கிறது. புதிதாக உடற்பயிற்சி செய்பவா்கள் இந்த பயிற்சியில் ஈடுபடாமல் இருப்பது நல்லது. <!----> 3. ஒன்-ஃபாா்-ஒன் பயிற்சி (One-for-one training)...

Today's news

Latest offer's