Saturday, October 1, 2022

எண்ணம் போல் வாழ்க்கை..!

International Yoga Day 2022: युवाओं को डिप्रेशन, तनाव से बाहर निकालने में कारगर हैं ये आसन


International Yoga Day 2022: योग रोगों को दूर भगाने का एक बेहतरीन विकल्प है. योग के महत्व का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दुनियाभर में हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है. हजारों साल पहले भारत में ही योग का आविष्कार हुआ था जिसका लोहा आज पूरी दुनिया मान रही है. पिछले कुछ सालों में योग को लेकर हमारे देश में भी काफी जागरूकता आई है. योग शारीरिक के साथ ही मानसिक समस्याओं के निदान का भी एक बेहतरीन विकल्प है. आज की भागदौड़ भरी लाइफ में खासतौर पर युवा कई मानसिक समस्याओं को सामना कर रहे हैं. खासतौर पर डिप्रेशन, चिंता एक कॉमन प्रॉब्लम बनकर उभरी है.
आप अगर नियमित योगाभ्यास करते हैं तो इन मानसिक समस्याओं से आसानी से निजात पा सकते हैं. जबलपुर के रहने वाले योगाचार्य अविनीश तिवारी के अनुसार योग सिर्फ शरीर को ही नहीं बल्कि मन को भी मजबूत करता है. योग में ऐसे कुछ आसन हैं जो डिप्रेशन, चिंता, आत्मविश्वास में कमी जैसी समस्याओं से निजात दिला सकते हैं, बशर्ते इन आसनों का सही तरीके से नियमित अभ्यास किया जाए.

डिप्रेशन, चिंता दूर भगाएंगे ये आसन
1. बालासन – बालासन में शरीर को उस स्थिति में लेकर जाया जाता है जिस स्थिति में बच्चा मां के गर्भ में होता है. इस आसन का नियमित अभ्यास करने से आसानी से शारीरिक मानसिक और भावनात्मक तौर पर मजबूत हुआ जा सकता है.

इसे भी पढ़ें: International Yoga Day 2022: योग सिर्फ आसन करना ही नहीं, जानें अष्टांग योग के 8 अंग

2. भुजंगासन – भुजंगासन मानसिक मजबूती देने के लिए किया जाने वाला एक बढ़िया आसन है. इस आसन से रीढ़ की हड्डी में खिंचाव आने के साथ ही पूरी बॉडी का पोश्चर सुधर जाता है. इस आसन को करने से डिप्रेशन की समस्या दूर होने में मदद मिलती है और बॉडी स्ट्रेस भी कम होता है.

3. वज्रासन – वज्रासन हमारे शरीर और मन को मजबूत बनाने के लिए किया जाता है. इस आसन को करने के लिए घुटनों के बल सीधा बैठा जाता है. इसमें कूल्हों को एड़ी पर रखकर बैठा जाता है. ये आसन भी मन को मजबूती देने में मददगार होता है.

इसे भी पढ़ें: International Yoga Day 2022: योग की शुरुआत करने जा रहे हैं तो इन ज़रूरी बातों का रखें ख्याल

4. सुखासन – ये एक ऐसा आसन है जिसे कोई भी आसानी से कर सकता है. सुखासन में घुटनों और टखनों में खिंचाव आता है. ये कई रोगों को दूर करने में मददगार होने के साथ ही मानसिक और शारीरिक बीमारियों को भी ठीक करने में सहायक होता है.

5. ताड़ासन – लोगों की सामान्य धारणा है कि लंबाई बढ़ाने के लिए ताड़ासन किया जाता है लेकिन ताड़ासन की मदद से मानसिक मजबूती भी हासिल की जा सकती है. इस आसन को करने के लिए दोनों हाथों को ऊपर की ओर खींचते हुए पंजे के बल उठा जाता है.

Tags: Health, International Yoga Day, Lifestyle



Source link

Today's Feeds

Want to submit Guest Post ?

Submit your guest / Sponsored Post on below form 👇🏻👇🏻

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Continue reading