Saturday, December 4, 2021
Homeहिंदी NEWSखानाTasty Kulcha made in tandoor at kulcha king of sarojini nagar market...

Tasty Kulcha made in tandoor at kulcha king of sarojini nagar market rada


(डॉ. रामेश्वर दयाल)

Famous Food Joints In Delhi-NCR: जब हम छोले-कुलचे की बात करते हैं तो हमारे दिमाग में जो तस्वीर उभरती है, उसके मुताबित मैदे का बना कुलचा, जिसे तवे पर सेंककर सूखे छोलों के सर्व कर दिया जाता है. बस कुलचे-छोले की इतनी सी दास्तान है. लेकिन आज हम जिस कुलचे व छोले की बात कर रहे हैं, वह इस तरह की ट्रेडशिनल डिश नहीं है जो अमूमन हर जगह दिख जाता है. असल में यह एक तरह का पंजाबी खाना है. पंजाब में भी अमृतसर इलाके का. अब आप समझ ही गए होंगे. यह असल में तंदूरी कुलचा है जो धधकती भट्टी में तैयार होता है और खास तरीके से बने छोलों के साथ सर्व किया जाता है. आज हम साउथ दिल्ली की ऐसी ही एक दुकान पर आपको ले चल रहे हैं. इनके तंदूरी कुलचे-छोले का स्वाद इसलिए लाजवाब है, क्योंकि परिवार ने करीब 35 साल तक अमृतसर में ही यही काम किया था.

मसाला, मिक्स से लेकर पनीर तंदूरी कुलचा भी है लाजवाब
साउथ दिल्ली में रिंग रोड से सटी सरोजनी नगर मार्केट राजधानी की मशहूर मार्केट है. यहीं पर ही ‘कुलचा किंग’ नाम से एक दुकान है. दुकान में चार प्रकार के तंदरी कुलचे बेचे जाते हैं. मिक्स कुलचा, जिसमें गोभी, मैथी, अदरक, प्याज का स्टफ भरा जाता है. इसके अलावा मसाला कुलचा, जिसमें धनिया, काली मिर्च, अजवायन, अदरक, मेथी का स्पेशल मसाला भरा जाता है. इनके अलावा पनीर व पनीर मसाला कुलचा भी उपलब्ध है. आप इस दुकान पर पहुंचिए, किसी भी प्रकार के तंदूरी कुलचे को खाने की चाहत बताइए, आपके सामने ही उसे बनाकर धधकती भट्टी में डाला जाता है. जिस भी किस्म का कुलचा होगा, उसमें स्टफ भरपूर होगा.

kulcha 2

खास मसालों से तैयार होते हैं कुलचे
भट्टी में कड़क सिंकने के बाद इसे बाहर निकालकर इस पर भरपूर मक्खन मला जाता है, फिर उसे दोनों हाथों से क्रश (मरोड़ना) कर दिया जाता है. इसके साथ जो छोले होते हैं, वह स्पेशल हैं. वजह यह है कि इन छोलों में किसी प्रकार का तेल, घी या मक्खन का प्रयोग नहीं होता. यह छोले खास प्रकार के अमृतसरी मसालों से पानी में ही तैयार होते हैं. एक प्लेट में दो तंदूरी कुलचों के साथ स्पेशल छोले दिए जाते हैं. इसके साथ में बारीक कटी प्याज के साथ खट्टी चटनी भी मिलती है. कुलचे को अगर चटनी के साथ खाओगे तो अलग मजा आएगा. छोलों के साथ निपटाओगे तो अलग ही आनंद की अनुभूति होगी और अगर तीनों का संगम कर मुंह में रखोगे तो वाह-वाह कह उठोगे.

सरदारजी के साथ दो बिटियां भी स्वाद को लेकर सजग रहती हैं
इस दुकान की विशेषता यह है कि आप कितनी भी बार छोले की मांग करें या चटनी की, आपको लगातार परोसी जाएगी. इन दो तंदूरी कुलचों की प्लेट की कीमत 110 रुपये से लेकर 150 रुपये है. दुकान पर 20 रुपये का रायता और 30 रुपये की लस्सी के साथ भी कुलचों का मजा लूटा जा सकता है. कुलचे बेचने का काम वर्ष 2009 में सरदार अवतार सिंह ने शुरू किया. साउथ दिल्ली वाले लोगों को इसका स्वाद रास आ गया, क्योंकि यह आम कुलचों से बिल्कुल अलग था. आज इस दुकान को उनके बेटे हरजीत पाल सिंह चला रहे हैं, साथ में दो बेटी रिद्म व जोएली मदद करती हैं. उनका मकसद रहता है कि कुलचों के स्वाद में कोई कमी न रह जाए.

kulcha 3

35 साल तक परिवार ने अमृतसर में तंदूरी कुलचा बेचा
उनका कहना है कि पहले हमारे परिवार के लोगों ने 37 साल तक अमृतसर में यही धंधा किया. वहां हमने खूब नाम कमाया. दिल्ली में भी यह काम चल निकला. पूरा परिवार क्वॉलिटी कंट्रोल के लिए खास सावधानी बरतता है. इनकी यूएसपी यही है कि स्वाद बिल्कुल अलग और बेजोड़ है. आने वाले लोग खाकर मानते हैं कि साउथ दिल्ली में ऐसा स्वाद शायद ही कहीं मिले. यह दुकान सुबह 8:30 बजे शुरू हो जाती है और शाम 5 बजे तक कामकाज जारी रहता है. शाम को दुकान पर स्नैक्स मिलता है. अवकाश कोई नहीं है.

नजदीकी मेट्रो स्टेशन: भीकाजी कामा प्लेस

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Today's feeds